सुरक्षित हवाईजहाज यात्रा

  • SocialTwist Tell-a-Friend

हवाईज़हाज़ से सफ़र करना दूसरे साधनो की बजाय ज़्यादा सेफ समझा जाता है क्योंकि यह सामान्य, सेफर तथा हेल्दी एन्वाइरन्मेंट मे होता है, लेकिन सफ़र करने से पहले आपको चाहिए कि जिस एयरलाइन मे आप ट्रेवलिंग करने वाली हैं उनकी गर्भवती महिलाओं के लिए क्या पॉलिसीज हैं जहाँ एक ओर कुछ एयरलाइन अठाईस्वें हफ्ते तक आपको ट्रेवलिंग करने की अनुमति देती है वहीं कुछ का मानना है की छत्तीसवे हफ्ते तक कोई कॉंप्लिकेशन्स नहीं होती हैं सभी एयरलाइन्स का पेपरवर्क अलग हो सकता है इसलिए किसी को भी चुनने से पहले अच्छी तरह रिसर्च कर लें और फिर निर्णय लें।

हाई रिस्क प्रेग्नेन्सी वाली महिलाओं को किसी से भी ट्रेवलिंग करने की अनुमति नही है, साथ ही याद रहे कि टिकट बुक करते समय एयरलाइन कंपनी आपके डॉक्टर से एक सर्टिफिकेट मांगती हैं जिसमे आपकी ड्यू डेट और हेल्थ कंडीशन की जानकारी होती है।


सही सीट का चुनाव करें

ऐसी सीट का चुनाव करें जो आराम दायक तो हो ही साथ ही लेग स्पेस भी काफ़ी हो जिसमे आप आराम से खुलकर अपनी स्ट्रेचिंग एक्सार्साइज़ कर सकें और अपने से यात्रियों को बिना डिस्टर्ब करे वॉशरूम आराम से जा सकें, एक ही पोस्चर मे ना बैठी रहें और हो सके तो पोस्चर्स बदलाव करती रहें इससे आपकी बॉडी मे ब्लड सर्क्युलेशन सुचारू रूप से चलता रहेगा और अगर आप थोडा सा चलना चाहती हैं तो इसके लिए पहले एयर होस्टेस को ज़रूर बता दें, अगर आप ज़्यादा आरामदायक सीट और प्राइवेसी चाहते हैं तो आप बिज़नेस क्लास सीट्स बुक कर सकते हैं, बैठे बैठे कलाइयाँ घुमाना, टखने मूव करना आदि अच्छी स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज हैं, कुछ एयरलाइन्स ऐसी होती हैं जहाँ सीट फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व की बेसिस पर मिलती हैं, इसलिए जल्दी ही एयरपोर्ट पहुँचने की कोशिश करें, बल्कि अगर हो सके तो थोड़ी सी एक्सट्रा फीस देकर सीट पहले ही रिज़र्व करवा लें ।


  • सीट बेल्ट्स बांधें- जब भी एयर होस्टेस आपसे सीट बेल्ट बाँधने को कहे तो सीट बेल्ट ज़रूर लगायें, कभी कभी खराब मौसम के कारण पाइलट पहले ही बता देता है कि आगे उबड़ खाबड़ रास्ता है और ढ़चके लग सकते हैं तो अपनी सीट लगा लीजिए, इसीलिए किसी भी प्रकार की असावधानी से तौबा करें और सीट बेल्ट ज़रूर लगायें ।
  • मेक स्मार्ट फूड चॉयस- एयरलाइन्स मे सफ़र करते समय आपकी रॉ फूड दिया जाता है जैसे सलाद, कटे हुए फल वगैरह जिनमे कच्चा अंडा जैसे मायोनिस आदि पदार्थ होते है जिनसे फुड पाय्ज़निंग तथा इन्फेक्शन हो सकता है इसलिए इनसे परहेज़ करें, हो सके तो खूब पानी पीयें और चाय या कॉफी कम से कम पीयें, थोड़ी थोड़ी देर मे हॉट फूड की छोटी छोटी मील्स लेते रहें ।
  • सफ़र करते समय रिलैक्स रहें- बहुत से लोगों मे देखा जाता है कि वह फाइट के टेक ऑफ तथा लॅंडिंग के समय घबरा जाते हैं, लेकिन ऐसा बिल्कुल ना करें, एयरलाइन मे आपके लिए ऑक्सीजन का पूरा बंदोबस्त होता है भले ही आपकी फ्लाइट कितनी ही उँचाई पर उड़े आपको साँस लेने मे कोई परेशानी नही होती, अगर आप दर रही हैं कि एयरपोर्ट पर मौजुद मेटल डिटेक्टर आपके बच्चे को नुकसान पहुँचा सकते हैं तो परेशान मत होए क्योंकि यह बिल्कुल सेफ होते हैं, इसीलिए एयरलाइन मे सफ़र करते हुए बिल्कुल रिलॅक्स रहें और आराम करें ।

एयरलाइन मे सफ़र करते समय टेंप्रेचर बदलता रहता है जिसमे आप तो अडजस्ट कर सकती हैं लेकिन शायद यह आपके पैरों को गवारा नही होता और वह सूज सकते हैं, इसलिए कम्फर्टेब्ल शूज पहने जिनमें आपके सूजे हुए पैरों के लिए भी जगह रहे ।

SOURCE: http://www.onlymyhealth.com/

VN:F [1.9.1_1087]
Rating: 6.0/10 (9 votes cast)
सुरक्षित हवाईजहाज यात्रा , 6.0 out of 10 based on 9 ratings


Leave a Reply

    One Response to “सुरक्षित हवाईजहाज यात्रा”

    * Following fields are required

    उत्तर दर्ज करें

     (To type in english, unckeck the checkbox.)

आपके आस-पास

Jagran Yatra